लेखापरीक्षा अनुभागों के प्रकार

 

यह कार्यालय पश्चिम बंगाल में उत्पन्न एवं एकत्रित केन्द्रीय राजस्व प्राप्तियों के प्रत्यक्ष और अप्रत्यक्ष करों, उत्तर पूर्वी क्षेत्र तथा पारादीप पोर्ट की सीमा शुल्क प्राप्तियां जिसमें भुवनेश्वर कलेक्टोरेट के केन्द्रीय राजस्व प्राप्तियों का लेखा-जोखा, पश्चिम बंगाल में केंद्र सरकार के कार्यालयों का व्यय जिनमें अंडमान और निकोबार द्वीपसमूह के संघीय क्षेत्र के व्ययों सहित उनके विभागीय उपक्रम शामिल हैं, से संबंधित लेखापरीक्षा कार्य करता है। उक्त उत्तरदायित्वों के अतिरिक्त, यह कार्यालय कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट तथा अन्य स्वायत्त निकायतों के लेखापरीक्षा कार्य भी करता है, जैसा कि सीएजी के डीपीसी अधिनियम, 1971 की धारा 14, 19 और 20 में दिए गए हैं, जिसमें बाहरी सहायता-प्राप्त परियोजनाएं जो पूर्वोक्त अधिनियम के तहत शामिल नहीं किए गए हैं, कुछ चयनित विभागों के प्रबंधन से संबंधित सरकारी उपक्रमों (प्रोफोर्मा अकाउंट्स) और राज्य सरकार के कार्यालयों के साथ-साथ महालेखाकार, भूटान इंवेस्टिगेशन डिविशन, भूटान एवं टाला जल विद्युत परियोजना, भूटान की तरफ से अन्य स्वायत्त निकायतों, पश्चिम बंगाल में स्थित सीआईएसएफ तथा सीआरपीएफ कार्यालयों और उत्तर पूर्वी(मणिपुर को छोड़कर) और पूर्वी क्षेत्रों में अवस्थित सशस्त्र सीमा बल के कार्यालय भी शामिल हैं। इसके अलावा विभागीयकरण के पश्चात् छोड़ दिए गए अवशिष्ट लेखा कार्य और पेंशन का प्राधिकार अभी भी इस कार्यालय से संलग्नित ही हैं।

 

इस कार्यालय के विभिन्न अनुभागों का संक्षिप्त विवरण निम्नानुसार है:

 

प्रशासन:

 

        प्रशासन: यह अनुभाग इस कार्यालय के सामान्य प्रशासनिक कार्यों के

लिए जिम्मेदार है।

        राजभाषा: यह अनुभाग राजभाषा अधिनियम के क्रियान्वयन संबंधी कार्यों की देखरेख करता है तथा हिंदी में अनुवाद कार्यों में भी

सहायता करता है।

        नकद: यह अनुभाग भुगतान से संबंधित व्यवस्थाएं करता है।

        अभिलेख ।: यह अनुभाग स्टेशनरी वस्तुओं की खरीद तथा स्टॉक एवं भंडार के रखरखाव, कार्यालयीन व्यय, पुस्तकों की खरीद,

दूरभाष और अन्य सभी कार्यालयीन मशीनों के रखरखाव के लिए जिम्मेदार है।

        अभिलेख ॥: यह अनुभाग पत्रों की प्राप्ति एवं विभिन्न अनुभागों में उनके वितरण के लिए जिम्मेदार है। यह कार्यालय के आदेश और

प्रेषण पत्रों की परिचालना करता है।

        हकदारी: इस अनुभाग द्वारा वेतन बिल, टीए बिल, मेडिकल बिल, एलटीसी संबंधित दावें, एचबीए तथा किसी भी अन्य प्रकार के

अग्रिम बिल से लेकर किसी भी तरह के बिल तैयार किए जाते हैं। यह अनुभाग सभी गैर सरकारी संगठनों के सर्विस बुकों का

रखरखाव भी करता है, इन गैर सरकारी संगठनों के जीपीएफ दावों को पास कराता है। गैर सरकारी संगठनों का भुगतान

निर्धारण भी इस अनुभाग द्वारा किया जाता है।

        गोपनीय: यह अनुभाग सभी नाज़ुक और गोपनीय प्रशासनिक मामलों से संबंधित मुद्दे संभालता है। इसके अलावा, कोर्ट के मामलों,

अनुशासनात्मक मामलों, पदोन्नति के मामलों, एसीपी मामलों को इस अनुभाग द्वारा निपटाया जाता है।

        केन्द्रीय: यह एक समन्वयन अनुभाग है, जिसे विभिन्न रिपोर्टों/वापसी के संकलन/समेकन से संबंधित कार्य, लेखापरीक्षा कार्यालयों की

रैंकिंग, वार्षिक लक्ष्य और उपलब्धियों आदि से संबंधित कार्य सौंपा गया है।

        लेखांकन कक्ष: महालेखाकार (लेखा एवं हक), पश्चिम बंगाल के कार्यालय के काउंटरों से किए गए सेंट्रल सिविल तथा एसएसएस पेंशन से

संबंधित पेंशन भुगतान खातों के संकलन एवं समेकन, पेंशन भुगतान का मासिक व्यय विवरण तैयार करना, केन्द्रीय

लेनदेन का बयान, संघ सरकार वित्त खातें, बैलेंस शीट, इत्यादि।

  पेंशन एवं प्रशिक्षण: यह अनुभाग 1.1.90 से पूर्व के स्वतंत्रता सेनानियों के पेंशन मामलों, सेंट्रल सिविल पेंशन एवं 1.1.90 से पूर्व के

अन्य विविध मामलों का कार्यभार संभालता है। यह आरटीआई, कोलकाता में कार्यालयीन प्रशिक्षण तथा अन्य

प्रशिक्षण पाठ्यक्रमों की व्यवस्था के लिए भी जिम्मेदार है।

        शिफ्टिंग: यह अनुभाग इस कार्यालय के नवीनीकरण और स्थानांतरण से संबंधित कार्यों के समन्वयन के लिए उत्तरदायी है।

निरीक्षण:

 

        ओएडी-मुख्यालय: यह अनुभाग जनशक्ति प्रबंधन, पार्टी गठन और ओएडी के समग्र समन्वय के लिए जिम्मेदार है। सिविल यूनिट्स के

निरीक्षण के रिपोर्ट भी इस अनुभाग द्वारा सत्यापित किए जाते हैं।

        ओएडी-रिपोर्ट एवं एबी: यह अनुभाग स्वायत्त निकायतों के अलग-अलग लेखापरीक्षा रिपोर्टों से संबंधित सभी कार्यों के लिए जिम्मेदार है।

इस अनुभाग द्वारा निरीक्षण स्कंध से संबंधित ड्राफ्ट पैराओं का निर्वहन भी किया जाता है।

        डब्ल्यूएडी-।&: यह अनुभाग सीपीडब्ल्यूडी, एपीडब्ल्यूडी, एएलएचडब्ल्यू, आदि के निष्पादन लेखापरीक्षा के कार्यों का समन्वयन करता है।

पार्टियों के गठन, निष्पादन लेखापरीक्षा से संबंधित रिपोर्ट जमा करने के कार्य भी उनके द्वारा संभाले जाते हैं।

 

राजस्व लेखापरीक्षा प्रत्यक्ष कर:

        आईटीआरए मुख्यालय: यह अनुभाग जनशक्ति प्रबंधन, पार्टी गठन और आईटीआरए अनुभाग के समग्र समन्वय के लिए उत्तरदायी है।

इस अनुभाग द्वारा 'ड्राफ्ट पैरा' और 'समीक्षा' से संबंधित सभी जिम्मेदारियों का निर्वहन भी किया जाता है।

राजस्व लेखापरीक्षा अप्रत्यक्ष कर:

        सीईआरए-मुख्यालय: सीईआरए अनुभाग नियंत्रक महालेखापरीक्षक के दिशानिर्देशों के अनुसार केन्द्रीय उत्पाद शुल्क और सेवा कर दे रही

इकाइयों का निरीक्षण करने के लिए जिम्मेदार है। सीईआरए लेखापरीक्षा रिपोर्ट के लिए मामले तैयार करता है।

(अप्रत्यक्ष कर)

 

        सीआरएडी-मुख्यालय: यह अनुभाग सीमा शुल्क लेखापरीक्षा तथा इससे संबंधित कार्यों के लिए उत्तरदायी है।

ईडीपी कक्ष:

 

        यह अनुभाग पूरे कार्यालय के ईडीपी कार्यों की निगरानी के लिए जिम्मेदार है तथा सॉफ्टवेयर विकसित करने एवं कंप्यूटर हार्डवेयर तथा स्टेशनरियों के क्रय के लिए भी जिम्मेदार है। यह अनुभाग आईटी ऑडिट और ऐडमिन विज़ार्ड के कार्यों का समन्वयन करता है।

 

कोलकाता पोर्ट ट्रस्ट:

        केओपीटी-मुख्यालय

 

 

कल्याण:

 

        कल्याण अनुभाग कार्यालय के सभी कल्याण से संबंधित क्रियाकलापों से संलग्नित रहता है। इन क्रियाकलापों में शामिल हैं: कार्यालयीन अवधि से परे

 

 

आंतरिक परीक्षण लेखापरीक्षा: